Awesome benefits: Ghode ki naal ka milna

Vastu Tips: (Kale ghode ki naal ka milna) घोड़े की नाल का मिलना

ghode ki naal ka milna

अगर सच में दौड़ते हुए घोड़े की नाल मिल जाये तो बहुत ही शुभ होता है । वैसे तो किसी भी Ghode ki naal ka milna अच्छा ही होता है पर अगर दौड़ते हुए Kale ghode ki naal (खुरियाँ) मिल जाये तो बहुत ही शुभ होता है। क्योंकि लोहा शनि की धातु है और काला रंग शनि देव को प्रिय है ।

प्राचीन काल से लोग इसे अपने घरों के मुख्य द्वार के ऊपर इसको टांग कर रखते है। क्योंकि यह आपके शनि दोष को तो दूर करती ही है साथ में बुरी आत्माओं और नकारात्मक ऊर्जा से भी हमारी रक्षा करती है अब तो यह आपको बाज़ारों में ऑनलाइन भी मिल जाती है।

पर ज्यादातर यह नकली होती है। असली kale ghode ki naal वही होती है जो दौड़ते हुए घोड़े की छिटक कर निकल जाये, खासकर काले घोड़े की। इसीलिए काले Ghode ki naal ka milna शुभ माना जाता है।

बदले अपनी किस्मत काले घोड़े की नाल से

जी हाँ दोस्तों आपने सही पढ़ा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बदले किस्मत Kale ghode ki naal से । पर कैसे, आईये जानते है।

अगर आपका व्यापार ठीक से न चल रहा हो या किसी ने तंत्र मंत्र करके उसे बांध दिया हो या आप अपने व्यापार को बुरी नजर से बचा के रखना चाहते हो तो किसी भी शनिवार के दिन Kale ghode ki naal को गंगा जल से धो कर, थोड़ा सा सिन्दूर लगाकर, उसे धुप दीप दिखा कर उसका सुधिकरण करके उसको अपनी दुकान के मुख्य द्वार की चौखट पर इस तरह से ठोक दे की नाल का खुला भाग ऊपर की तरफ रहे। इससे आपकी दुकान या व्यापार में अछ्चार्यजनक बृद्धि होगी और आपका व्यापार सदा सुरक्षित रहेगा।

जाने (लाफिंग बुद्धा) Laughing Buddha kya hai

यदि आपके घर में वास्तु दोष हो या घर में क्लेश रहता हो या किसी ने तंत्र मंत्र किर्या की हो तो शनिवार के दिन Kale ghode ki naal का शुद्धिकरण करके अपने घर के मुख्यद्वार की चौखट पर यू अक्षर के आकर में लगा दें। कुछ ही दिनों में नाल के प्रभाव से सब कुछ ठीक हो जायेगा और आपको अद्धभुत प्रणाम देखने को मिलेंगे।

किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि अशुभ होने पर उसे छोटे छोटे कार्यो में कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और उसे बहुत सारे कष्ट और परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र में शनि के दोषों को दूर करने के बहुत सारे उपाए उपाए बताये गए है।

पर उन सबसे सस्ता और कारगर उपाए है काले घोड़े की नाल का छल्ला पहनना। किसी भी शनिवार के दिन काले घोड़े की नाल के छल्ले को गंगा जल और गो मूत्र से धो कर, थोड़ा सिन्दूर लगाकर, उसे धुप दीप दिखाकर सीधे हाथ की बीच वाली बड़ी ऊँगली में पहन लें। इस अंगूठी को धारण करने से शनि दोष कम हो जाते है और स्वास्थ में बृद्धि होती है।

यह Kale ghode ki naal क्या होती है?

Kale ghode ki naal kya hoti hai यह Kale ghode ki naal लोहे की बनाई जाती है यू अकार में, इसको पंजाबी में (खुरियाँ) भी कहते है इसे घोड़े के चारों पैरों में लगाया जाता है। क्योंकि घोड़े का उपयोग सामान आदि ढोने के लिए किया जाता है।

बिना नाल (खुरियाँ) के पक्की सड़क पर ज्यादा चलने से घोड़े के पैर खराब हो जाते है इसीलिए नाल (खुरियों) को  घोड़े के पैरों में लगाया जाता है जिससे घोड़े के पैर सुरक्षित रहते है। मान्यता है की दौड़ते हुए Ghode ki naal ka milna बहुत ही शुभ होता है। क्योंकि यह शनि दोष को काम करती है और हमें बुरी शक्तिओं से बचाती है।

ज्योतिष और वास्तु शास्त्र के अनुसार

वास्तु शास्त्र के अनुसार: माना जाता है की यदि घर का मुख्य द्वार उत्तर, पश्चिम, या उत्तर-पश्चिम, में है तो उस पर बाहर की और ऊपर काले घोड़े की नाल जरूर लगानी चाहिए। घर के मुख्य द्वार पर काले घोड़े की नाल लगाने से घर को किसी की बुरी नज़र नहीं लगती और बरकत हमेशा बनी रहती है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार: काले घोड़े के पैरों पर शनि का विशेष प्रभाव होता है। घोड़े की नाल (खुरियाँ) लोहे की बनी होती है, और लोहा शनि देव की धातु है साथ में काला रंग शनि देव को प्रिय लगता है। इसीलिए घर में Kale ghode ki naal मुख्य द्वार पर लगाने से शनि का प्रकोप समाप्त हो जाता है।

  • लोगों का मानना है की अगर काले घोड़े की नाल को काले कपड़े में बांधकर अनाज में रख दिया जाये तो घर में कभी अनाज की कमी नहीं रहती।
  • लोगों का यह भी मानना है की अगर Kale ghode ki naal को तिजोरी में रख दिया जाये तो धन की कमी नहीं रहती।
  • यह भी कहते है की अगर इसे घर के मुख्य द्वार पर बाहर की और लगाने से जादू टोने-टोटके और नकरात्मक ऊर्जा से मुक्ति  मिलती है।

क्या सही है? घर में काले घोड़े की नाल को लगाना

देखिये घर के मुख्य द्वार पर घोड़े की नाल लगाने से नकरात्मक ऊर्जा से मुक्ति मिलती है पर कुछ विद्वानों के अनुसार काले Ghode ki naal ka milna और उसको घर के मुख्य द्वार पर लगाना सही नहीं है। उनका मानना है की घर के मुख्य द्वार पर गणेश जी का फोटो या मूर्ति को लगाना चाहिए या किसी मंगल प्रतीक को लगाना चाहिए।

अगर आप फिर भी घर में काले घोड़े की नाल लगाना चाहते है तो एक बार अपने विद्वान से जरूर सलाह ले लें की इसको लगाना आपके लिए उचित है या नहीं। अगर आप इसको विद्वान की आज्ञा के अनुसार घर के मुख्य द्वार पर लगाएंगे तो आपको बहुत ही लाभ होगा।

जाने कैसे काले घोड़े की नाल से होगी सौभाग्य प्राप्ति

घोड़े की नाल को घर के मुख्य द्वार पर लगाने से सौभाग्य में बढ़ोतरी होती है साथ में यह भी माना जाता है की इसे लगाने से घर में बुरी शक्तियां प्रवेश नहीं करती। यह हमें बुरी नजर से बचाता है।

कैसे करें पहचान?

घर में घोड़े की असली नाल को ही लगाना चाहिए। मतलब अगर आप काले घोड़े की नाल को बाजार या ऑनलाइन खरीदते है तो यह जरूर चेक कर ले की क्या वह नाल घोड़े द्वारा इस्तेमाल की हुई है या नहीं।

असली नाल वही होती है जो घोड़े के दौड़ते समय पैर से निकल जाये। साथ में Ghode ki naal ka milna बहुत शुभ होता है।

कैसे लगाए काले घोड़े की नाल को

घर में Kale ghode ki naal को आप दो तरीकों  से लगा सकते है:

  • यू पैटर्न
  • रिवर्स यू पैटर्न

यू पैटर्न में लगाने के लाभ:

जैसे जब नाल के दोनों सिरे ऊपर की और होते है उसे यू पैटर्न कहते है।

यू पैटर्न में नाल को घर के मुख्य द्वार पर लगाने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

यू पैटर्न में घोड़े की नाल को घर और दुकानों में लगाना अत्यधिक प्रभावशाली माना जाता है।

रिवर्स यू पैटर्न में लगाने से लाभ

रिवर्स यू पैटर्न को मतलब घोड़े की नाल को उल्टा करने पर घोड़े की नाल की दोनों सिरायें नीचे की और हो जाती है इसे रिवर्स यू पैटर्न कहते है।

घोड़े की नाल का रिवर्स यू पैटर्न गोडाउन या बंगले के लिए अधिक उपयुक्त है। इससे नकरात्मक ऊर्जा उलटे पैर लौट जाती है। इस बात का ध्यान रखे की यदि घोड़े की नाल मेन डोर पर लगी हो तो ऊपर की दिवार पर आईना भी जरूर लगाए।

घोड़े की नाल के उपाये और फायदे

Kale ghode ki naal (खुरियाँ) का प्रयोग शनि देव की दशा को दूर करने में ही नहीं बल्कि और भी बहुत सारे छोटे-छोटे सरल उपाए को सिद्ध करने में भी किया जाता है:

  • घोड़े की नाल का प्रयोग बीमारी में सुधार लाने के लिए भी किया जाता है, घोड़े की नाल से चार कील बनवाकर, सवा किलो उड़द की दाल एवं एक सूखे नारियल के साथ रखकर बहते हुए पानी में बहा देना चाहिए। यह प्रयोग रोगी द्वारा स्वयं किया जाना चाहिए।
  • माना जाता है की काले घोड़े की नाल को तिजोरी में रखने से धन में बृद्धि होने लगती है।
  • घोड़े की नाल की चार कील बनवाकर पीड़ित व्यक्ति के पलंग में गाड़ देने से उस पीड़ित व्यक्ति को काफी राहत मिलती है।
  • अगर घर में किसी को शनि की दशा चल रही है तो घर के मुख्य द्वार के बाहर की और Kale ghode ki naal को शनिवार के दिन गाड़ देना चाहिए।
  • मान्यता है की अगर काले घोड़े की नाल को दुकान के मुख्य द्वार पर लगा दिया जाये तो दूकान की बिक्री में बढ़ोतरी होती है।
  • अगर काले घोड़े की नाल को काले कपड़े लपेटकर अनाज कक्ष में रखा जाये तो अन्न की कभी कमी नहीं आती।

ध्यान रखें: यह सब करने से पहले अपने पंडित जी इसके बारे में एक बार सलाह जरूर करें।

काले घोड़े की नाल का छल्ला (Kale ghode ki naal ka challa)

kale ghode ki naal ka challa
kale ghode ki naal ka challa

शनिदेव को लोहा प्रिय है पर मान्यता है की शनिवार के दिन लोहा नहीं खरीदते है।  पर अगर यदि निजी प्रयोग के लिए शनिवार को लोहा घर में लाया जाये और विधिपूर्ण धारण किया जाये तो शनि प्रसन्न होते है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार धातु और ग्रहों का धनिष्ठ सम्बन्ध है।

अगर ग्रह विपरीत हो तो इंसान के जीवन पर नकरात्मक असर होता है। यदि आपके किसी भी कार्य में कोई बाधा आ रही हो तो इसका रामबाण उपाय आप शनिवार के दिन विधि पूर्वक अपने दाहिने हाथ की मध्यमा ऊँगली में काले घोड़े के नाल से बने छल्ले (Kale ghode ki naal ka challa) को धारण कर ले। या काले घोड़े की नाल की रिंग को पहन ले। आपके सभी बिगड़े काम बनने लगेंगे।

काले घोड़े की नाल और अंगूठी आपको बाजार और ऑनलाइन भी मिल सकती है लेकिन इसकी कोई गारंटी नहीं होती की वो असली है या नकली।  आज कल लोग पैसा बनाने के चक्कर में आपको नकली बेच देते है। पर इसका आपका कोई फायदा नहीं होगा।

क्योंकि लोहे की अंगूठी सामान्य लोहे की नहीं बनती। इस काले घोड़े की नाल की अंगूठी को पुराणी नौका की कील और Kale ghode ki naal को मिलाकर बनाया जाता है और इसे शनिवार के दिन ही बनाया जाता है। बनाने के बाद इसे गंगा जल और गो मूत्र से धो कर, थोड़ा सिन्दूर लगाकर, उसे धुप दीप दिखाकर सीधे हाथ की बीच वाली बड़ी ऊँगली में पहन लें। इस अंगूठी को धारण करने से शनि दोष कम हो जाते है और स्वास्थ में बृद्धि होती है।

आज आपने क्या सीखा?

मित्रों आज हमने जाना की Ghode ki naal ka milna कितना शुभ होता है। साथ में हमने यह भी जाना की यह Kale ghode ki naal क्या होती है? घोड़े की नाल को द्वार पर लगाना उचित है, इसकी क्या पहचान है, इसकी रिंग के क्या फायदे है।

हमे पूरा विश्वास है की आपको यह सब पढ़ कर बहुत अच्छा लगा होगा। आपसे निवेदन है की इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें। धन्यवाद

 

Leave a Comment